Internet kya hai और भारत में इंटरनेट की शुरआत कब हुई थी ?

आज हम इस आर्टिकल में जानने वाले है की Internet kya hai, Internet की शुरुआत कब हुई थी, भारत में इन्टरनेट की शुरुआत कब हुई, Importance of Internet in Hindi और भी कई सारी बातें करने वाले हैं जो इन्टरनेट से जुड़ी हो |

दोस्तों आप जानते ही है की हमारे दैनिक जीवनकाल में इन्टरनेट का कितना बड़ा महत्वपूर्ण योगदान है | जिससे हम किसी भी काम को बहुत आसानी से कर सकते हैं | अगर हमें खाना न मिलेगी तो कुछ देर केलिए चलेगा लेकिन कुछ देर इन्टरनेट बंद हो जाता है तो बेचैनी होने लगता है | जैसे हमारे जीवन से कुछ खो गया है | देर न करते हुए चलिए जानते है इन्टरनेट के बारे में |

Internet kya hai ( इन्टरनेट क्या है ?)

इन्टरनेट एक प्रकार का दुनियाभर में फैला नेटवर्क का जाल है जो की पूरी दुनिया की कंप्यूटर को आपस में एक दुसरे को जोड़ कर रखा है | इन्टरनेट के ही मदद से आप कोई भी प्रशन का उत्तर आसानी से गूगल में खोज सकते हैं ,  अगर आपके पास इन्टरनेट न हो तो आप को उसी प्रशन का उत्तर खोजने के लिए न जाने कितने किताबें उलटनी पड़े , और हो सकता है फिर भी आप को उत्तर न मिले |

सच कहें तो इन्टरनेट एक बहुत बड़ा जाल है , जो Interconnected Network के साथ जुड़े रहने के लिए slenderized communication protocol का प्रयोग करता है |

इसी लिए आज हमारे जीवनकाल में इन्टरनेट का बहुत बड़ा योगदान है | इन्टरनेट के ही मदद से हम किसी से भी जुड़ कर बात कर सकते हैं | अगर हमे फोटो , विडियो , text फाइल आदि जैसी फाइल को किसी के पास भेजना होता है तो हम इसी का इस्तेमाल करते हैं |

आजकल जितने भी सोशल मीडिया चल रहे हैं जैसे Facebook , WhatsApp , YouTube , Instagram आदि इन सब को भी इस्तेमाल करने के लिए इन्टरनेट का ही इस्तेमाल किया जाता है |

Internet की शुरुआत कब हुई थी ?

बात है सन 1969 की जब इन्सान ने चाँद पर पहला कदम रख्खा था तब अमेरिका के रक्षा कार्यलय ने Advanced Research Project Agency को नियुक्त किया था | जिसमे उन लोगों ने चार कंप्यूटर को एक साथ जोड़ा था जिससे आपस में एक दुसरे से data को आदान परदान कर सके |

इन्टरनेट की शुरुआत की 1983 में जब Arpanet कंपनी ने TCP/IP को अपने अधीन लिया था | उस वकत इसे “Network of Networks के नाम से जाना जाता था | लेकिन आज के आधुनिक ज़माने में इसे Internet के नाम से जाना जाता है |

अगर हम बात करें इसके मालिक की तो इसका कोई भी मालिक नहीं है | इस पर किसी एक कंपनी का अधिकार नही है |

पहली बार इन्टरनेट की शुरुआत Vinton Gray Cerf और Bob Kanh ने किया था | इन्ही दोनों महान पुरुषों को Father of Internet के नाम से जाना जाता है |

दुनिया का पहला ईमेल किसने भेजा था ?

दुनिया का पहला ईमेल Ray Tomlinson ने सन 1972 में भेजा था |

साल 1980 में कुछ हाई स्पीड कंप्यूटर को जोड़ कर एक नेटवर्क तैयार किया गया जिसका नाम नेशनल साइंस नेटवर्क रखा गया |

आम लोगों के लिए 1989 में इन्टरनेट को खोल दिया गया जिससे की आम लोग इसे इस्तेमाल कर सके |

भारत में इन्टरनेट की शुरुआत कब हुई ?

भारत में इन्टरनेट आरम्भ 14 अगस्त 1995 में हुई थी | परन्तु यह आम नागरिकों के लिए 15 अगस्त 1995 को खोल दिया गया | यह सेवा भारत में सबसे पहले एक सरकारी टेलिकॉम कंपनी VSNL ( Videsh Sanchar Nigam Limited ) ने आरम्भ की थी | तब उस समय इन्टरनेट का इतना महत्व था की उससे सिर्फ और सिर्फ DATA का आदान परदान होता था |

आज के ज़माने में इन्टरनेट की speed बहुत काफी है लेकिन उस ज़माने में जब इसकी शुरुआत भारत में हुई थी तो मात्र 8 से 10 kbps की ही speed होती थी |

जब इसकी शुरुआत भारत में हुई थी तो उस समय इसका इस्तेमाल बहुत ही कम जगहों पर होता था | उस समय लगभग 25 से 30 कंप्यूटर ही जुड़ी हुई थी | और ज्यादा इसे इस्तेमाल न करने का यह भी एक कारण था की इसकी खर्च बहुत काफी होता था |

लेकिन आज बात करें तो हर एक के हाथ में मौजूद है | आज इन्टरनेट का इतना महत्व हो गया है की हर काम के लिए इन्टरनेट का इस्तेमाल होता है| जैसे सरकारी कार्यालयों, निजी कार्यालयों, स्कूल, अस्पताल और भी न जाने कितने जगहों पर इसका इस्तेमाल होता है | और पहले के मुकाबले आज इन्टरनेट सस्ता भी बहुत है |

इन्टरनेट के फायदे ( Importance of Internet in Hindi)

अगर हम इन्टरनेट के फायदे की बात करें तो आज हम दुनिया के किसी भी कोने में बैठे हो और हम किसी के बारे में जानकारी लेना चाहें गूगल के माध्यम से बहुत ही आसानी से पता कर सकते हैं | और घर बैठे खान मंगवा सकते हैं | इन्टरनेट के माध्यम से हम कुछ ही क्षणों में कहीं का भी समाचार देख सकते हैं | और भी कई तरह-तरह के कार्य कर सकते हैं |

इन्टरनेट के उपयोग ( Uses of Internet )

अगर हम अपने चारों ओर नजर उठा कर देखे तो हमें इन्टरनेट की बहुत काफी जरुरत है | तो हम इसी के उपयोग के बारे में बात करने वाले है|

शिक्षा के क्षेत्रों में

इस कोरोना काल के lockdown में इन्टरनेट का शिक्षा में बहुत बड़ा योगदान रहा है|

परीक्षा देने में :- आज हर परतियोगिता परीक्षा ऑनलाइन होता सरकारी हो या गैरसरकारी |

दूरस्थ शिक्षा ( Distance Course ):- Distance course घर बैठे ही कर सकते हैं जिसे पूरा करने के लिए इन्टरनेट की आवश्यकता होती है |

चिकित्सा के क्षेत्रों में

चिकित्सा के क्षेत्रों में भी इन्टरनेट का बहुत बड़ा योगदान रहा है :-

  1. किसी भी रोगियों का रिकॉर्ड एक जगह सुरक्षित किया जा सकता है जिससे इलाज करने में आसानी होती है |
  2. अस्पताल के मैनेजमेंट को सही तरीके से देख भाल करना |
  3. अगर जिस रोग का डॉक्टर हमारे यहाँ उपलध न हो तो हम विदेशी डॉक्टरों से बहुत आसानी से संपर्क कर सकते है |

अगर हम बात करेंऔर भी  इसके उपयोग के तो हर जगह इसका इस्तेमाल होता है जैसे अनुसंधान केंद्र (Research center ), रक्षा विभाग में , मौसम विज्ञान में, हवाई जहाज को संदेस भेजने में, स्टेशनों और ट्रेन की जानकारी के लिए इत्यादि इन सब जगहों पर मुख्य रूप से इन्टरनेट का इस्तेमाल किया जाता है | वैसे तो हम आम इन्सान भी इसका प्र्योग करते है लेकिन ज्यादातर सिर्फ मनोरंजन के लिए करते हैं |

दुनिया का पहला वेबसाइट ( World First Website )

ब्रिटिश वैज्ञानिक टिम बर्नर्स-ली ने सर्न में काम करते हुए 1989 में वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) का आविष्कार किया था। यह वेबसाइट आज भी गूगल पर मौजूद है, जिसे आप चाहें तो इस लिंक पर क्लिक कर देख सकते है http://info.cern.ch/hypertext/WWW/TheProject.html यह वेबसाइट देखने में एकदम बेकार जैसा लगता है इस में किसी भी तरह का डिजाईन नही किया गया, इसे सिर्फ और सिर्फ HTML से बनाया गया था |

इन्टरनेट के नुकशान

अगर हम बात करें इसके लाभ की तो हम इस आर्टिकल में बहुत सारी जगहों पर इसके लाभ ही बताएं है, इस लिए हम इसके हानी के बारे में बात करेंगे | इन्टरनेट का इस्तेमाल अगर अच्छे से करें तो ये बहुत ही फायदेमंद है, लेकिन इसका उपयोग हम गलत तरीके से करें तो यह बहत बड़ा निक्शन शाबित होता है |

इसके इस्तेमाल करते हुए आप को पता ही नही चलेगा की हम कितना समय इसपे बिता चुके है | कई बार तो बच्चे गलत संगती के कारण इसपे गन्दी गन्दी विडियो और फोटो भी देखना शुरू कर देते है, इस लिए हमे बच्चों को इन्टरनेट से दूर ही रखना चाहिए, क्यंकि इसकी लत भी लग सकती है | कई बार कसी महत्पूर्ण सन्देश को भेजा जाता है और पता चलता है की वह किसी हैकर के द्वारा हैक कर लिया गया | इंही सब वजहों से इन्टरनेट का इस्तेमाल हमें सोच समझ करना चाहिए |

इन्टरनेट पर क्या क्या कम कर सकते हैं?

इन्टरनेट पर हम विभिन्न प्रकार के कार्य कर सकते हैं :-

  • विभिन्न प्रकार के वेबसाइट को देख सकते हैं |
  • Email करना |
  • Online Game खेलना |
  • Video देखना |
  • समाचार पढ़ना |
  • नौकरी की तलाश करना |
  • Online सामान खरीदना |

इन्टरनेट के माध्यम से हम बहुत कुछ कर सकते हैं, ये तो एक छोटा सा list है जो हम रोजमर्रा की जिंदगी में करते हैं |

FAQ

Mobile में इन्टरनेट की speed कैसे चेक करें ?

इस लिंक पर क्लिक करके चेक कर सकते है https://www.speedtest.net/

यह भी पढ़ें:- कंप्यूटर क्या है ? और भारत में कंप्यूटर की शुरुआत कब हुई थी ?

निष्कर्ष:-

आज हम इस आर्टिकल में आप को  Internet kya hai, Internet की शुरुआत कब हुई थी, भारत में इन्टरनेट की शुरुआत कब हुई, Importance of Internet in Hindi, इन्टरनेट के उपयोग, इन्टरनेट से क्या क्या कर सकते हैं और भी कई सारी जानकारी देने की कोशिश की है |

दोस्तों अगर आपने यह आर्टिकल पूरा पढ़ा होगा तो हमें पूरा उम्मीद है इससे आप को कुछ न कुछ सिखने को जरुर मिला होगा | अगर इससे सम्बंधित कोई सुझाव या सवाल हो तो आप हमें कमेंट कर के बता सकते है, जिसका जवाब हम जरुर देंगे, पूरा पढने के लिए धन्यवाद |

Sharing Is Caring:

My name is Sohail Akhtar I am a student of MCA, we like to get information about any thing and write it in our easy language.

Leave a Comment